एक चूहा की मोटिवेशनल कहानी

एक चूहा की मोटिवेशनल कहानी
Share Button

एक समय की बात है , एक चूहा था और वह एक घर में रहता था , उसी घर में एक छोटी बच्ची भी थी | जिसका नाम राधा था , राधा की माँ सुधा थी जो की बड़ी मुश्किल से अपनी बेटी के लिए दूध ढूंढ कर लाती थी | एक दिन की बात है सुधा ने अपनी बेटी के लिए दूध रख कर काम करने लगी , चूहा को बहुत ही तेजी से भूख लगी थी वह चुपके से आया और सारा दूध पी गया | थोड़ी देर…

Share Button
Read More

चालक मेंढक और चूहा की कहानी

चालक मेंढक और चूहा की कहानी
Share Button

अगर आप किसी के साथ बुरा करोगे तो आप के साथ भी बुरा होगा | बहुत ही पुरानी बात है की एक जंगल में एक दो दोस्त रहते थे , एक था मेढक और दूसरा था हमारे चूहा भाई , दोनों की दोस्ती ऐसी थी की मानो दोनों एक दूसरे के बिना कभी जी ही नहीं सकते थे | समय बीतता गया और एक दिन दोनों दोस्त एक साथ घूम रहे थे तभी मेंढक को एक विचार आया और बोला चलो हम दोनों एक दुसरो को एक रस्सी से बाँध…

Share Button
Read More

एक मास्टरनी की कहानी |

एक मास्टरनी की कहानी |
Share Button

मैं और पिताजी चुपचाप माँ का दैनिक प्रवचन सुन रहे थे, “आप हमेशा उसका पक्ष लेते हैं। विनोद से क्या‌ कहें,वो तो है ही बीवी का गुलाम! एक काम ढंग से नहीं करती, बस पर्स लटकाया और चल दीं स्कूल। हर बात पर जवाब देती है। बहुत तेज़ है मास्टरनी!” मैं समझ नहीं पाती थी कि माँ को क्या खराब लगता है?भाभी का पर्स लटकाना, गलत बात पर जवाब देना या ‘मास्टरनी’ होना? घर के काम करती हैं, सबका ध्यान रखती हैं, फिर भी? 1- में तो ज्ञान का प्यासा हूँ…

Share Button
Read More

बारिश में जब उसकी याद आयी | बीते लम्हे जब याद आते है |

बारिश में जब उसकी याद आयी | बीते लम्हे जब याद आते है |
Share Button

बाहर बारिश हो रही है, झमझमा के, चाय बनाये है बॉलकोनी के बैठ कर चाय पीते हुए देख रहे थे इन बारिश के बूंदों को की अचानक से सब को किनारे करते हुए तुम्हारी याद आ गई, हमेशा की तरह यादों के दरवाजों धकेलते हुए जैसे जी ये आई सब रुक सा गया, बारिश की वो बूंद, चाय से उठती भाप और नीम के पेड़ की पत्तियां सब की सब.लगा जैसे जिंदगी फ़िर उसी मेज़ पर जा कर रुक गयी जहाँ तुम मिले थे मुझसे, बारिश की वो बूंद जो टिकी थी balcony…

Share Button
Read More

एक अंधी लड़की की कहानी – लोगो की सोच

एक अंधी लड़की की कहानी –  लोगो की सोच
Share Button

इस दुनिया में बहुत कुछ ऐसा है जिसको हम सब लोग बिना जाने और समझे कुछ भी बोल जाते है और कुछ भी करने को तैयार हो जाते है । आज की कहानी है जो आप के मन को अंदर से सोचने पर मजबूर कर देगा और आप अपने को कुछ न कुछ जरूर कहेंगे ।एक समय की बात है की कुछ लोग बस में बैठ कर जा रहे थे , उसी बस में एक दस साल की लड़की भी जा रही थी । लड़की हरे पेड़ और बगीचों को…

Share Button
Read More

पंडित जी की महानता जो दिल को छू गयी

पंडित जी की महानता जो दिल को छू गयी
Share Button

एक नगर में एक पंडित जी रहते थे , पंडित जी का स्वभाव बहुत ही सरल था और उनको किसी भी चीज का लालच नहीं था | आज पंडित जी सुबह बच्चों को पढ़ाने जा रहे थे तो उनकी पत्नी बोली शाम के खाने के लिए बस एक मुठी चावल है और कुछ नहीं | पंडित जी बिना कुछ बोले ही निकल दिए , और शाम को जब घर वापस आये तो उनकी पत्नी ने उनको खाना खाने को दिया , इस पर पंडित जी ने बोला ये साग तो…

Share Button
Read More

बड़ी सोच – एक टिफिन वाले की कहानी

बड़ी सोच – एक टिफिन वाले की कहानी
Share Button

कबीर अपने गावं का एक लौता पढ़ा – लिखा लड़का था और नौकरी की तलाश में शहर को जा रहा था | वह एक ट्रेन मे बैठ कर जा रहा था , कुछ टाइम बाद शाम हो गयी और वह अपने साथ कुछ रोटिया खाने के लिए ले गया था | जब सब लोग खा रहे थे तब कबीर ने भी सोचा मे भी खाना खा लू , क्युकी उसके पास सब्जी नहीं थी तो वह बहुत ही शर्म कर रहा था | लेकिन थोरी देर बाद वह अपना टिफिन…

Share Button
Read More

ज्ञानी बालक और राजा की कहानी

ज्ञानी बालक और राजा की कहानी
Share Button

बहुत समय पहले की बात है की एक राजा एक घने जंगल में शिकार कर रहा था तभी अचानक तेजी से बारिश होने लगी और हवा भी बहुत तेज से चलने लगी | जब कुछ देर बाद बारिश बंद हो गयी तो राजा ने देखा की कोई भी सैनिक उसके साथ नहीं है और वह उनसे बिछड़ गया था | घने जंगल में पैदल चलने के कारण राजा को बहुत तेज भूख और प्यास लग गयी थी | वह बहुत ही परेशान हो गया था तभी तीन लड़के आते दिखाई…

Share Button
Read More

बढ़ई और लोहार की कहानी जो आप का दिल जख्झोर देगी

बढ़ई और लोहार की कहानी जो आप का दिल जख्झोर देगी
Share Button

चंदनपुर गांव में एक बढ़ई रहता था , गावं में सही काम न मिलने के कारन वह अपने गावं से कुछ दूर एक सेठ जी के यहाँ काम करता था | वह अपनी आरी से ही काम करता था , एक दिन उसकी आरी टूट गयी और अब वह सोचने लगा की कैसे कमाऊंगा | जहा वह काम करता था वही से थोड़ी ही दूर पर एक लोहार का घर था जो की लोहे का काम करता था | बढई अपनी आरी लेकर उसके पास पंहुचा और बोला मेरी आरी…

Share Button
Read More

कैसे दुसरो के साथ अपनी खुशिया बांटे – एक बूढ़ी माँ की कहानी

कैसे दुसरो के साथ अपनी खुशिया बांटे – एक बूढ़ी माँ की कहानी
Share Button

हम लोग अपने जीवन में इतने बिजी है की हम लोग हमेशा बड़ी – बड़ी चीजों में ही अपनी खुशिया ढूढते है | हम लोगो को खुश रहना चाहिए , चाहे वो खुशिया छोटी हो या बड़ी | आज की कहानी आप लोगो का दिल झकझोर देगी , मीना अपने कसबे से अकेले ही शहर की तरफ नौकरी करने जाती थी | वह एक स्कूल में टीचर थी और बहुत ही लगन से काम करती थी | वह कभी भी शहर के माहौल में नहीं रही थी इस वजह से…

Share Button
Read More

पतंग से सीख – सागर और उसके पिता जी की कहानी Hindi Moral Stories

पतंग से सीख – सागर और उसके पिता जी की कहानी  Hindi Moral Stories
Share Button

आज की पीढ़ी बहुत ही तेजी से आगे जा रही है , कभी – कभी हम लोग आगे बढ़ने के चककर में बहुत कुछ  खो देते है | आज की कहानी सागर और उसके पापा की है | सागर बहुत ही अच्छा लड़का है और अभी वह दस साल का है | सागर को पतंग उड़ाने का बहुत ही सौक है , एक दिन वह अपने पापा के साथ पतंग उड़ा रहा था | उसके पापा को पतंग उड़ाने का तरीका उतने अच्छे से नहीं पता था , लेकिन फिर…

Share Button
Read More

राजा अजीत सिंह के बेटी की कहानी – Story of King Ajit Singh’s daughter

राजा अजीत सिंह के बेटी की कहानी –  Story of King Ajit Singh’s daughter
Share Button

राजकुमारी रतना राजा अजीत सिंह की एकलौती पुत्री थी | वह अपनी पुत्री रतना के लिए एक सुयोग्य वर की तलाश कर रहे थे | राजकुमारी रतना बहुत की पढी और कुशल थी , अनेक राजकुमार उनसे विवाह करना चाहते थे | कई राजकुमारों ने तो राजा के पास शादी का सन्देश भी भेज दिया | एक दिन राजा ने अपनी बेटी से बोला – बेटी अब आप बड़ी हो गयी है और आप के विवाह का उम्र हो गया है , बहुत लोग तो तुम्हारे हुनर को देख कर…

Share Button
Read More