किसान और पत्थर की कहानी – Story of kishan and stone

hindi kisan story
Share Button

बहुत समय पहले की बात है सोहन नाम का एक किसान अपने खेतो में बहुत ही मेहनत से काम करता था | सोहन की एक बहुत ही बड़ी समस्या यह थी की वह किसी भी काम को बहुत बड़ा बना देता था , चाहे वह काम बहुत छोटा ही क्यों न हो | सोहन अपने खेतो में हल चलाने का काम करता था , उसके खेत में एक पत्थर था | सोहन बहुत बार काम करते वक़्त उससे टकरा जाता था , कभी – कभी उसका हल भी टूट जाता था | जो पत्थर था वो खेत के एकदम बीच में था और बहुत ही परेशान करता था सोहन को |

लंदन के राष्ट्रपति लार्ड वेलिंगटन के सफलता की कहानी

एक दिन की बात है , दोपहर का टाइम था सोहन अपने खेतो में हल चला रहा था | तभी वह गिर पड़ा उस पत्थर से टकरा कर , उसको बहुत ही ज्यादा गुस्सा आया | वह अपने गांवों में गया और सब लोगो से बोला मुझको अपने खेत से आज उस बड़े पत्थर को निकाल कर फेक देना है | सबलोग सोहन के खेत में पहुंच चुके थे , तभी एक आदमी ने एक कुदार मारा पत्थर पर और वह निकल कर बाहर आ गया | यह देख सबलोग वही पर हसने लगे और सोहन का मजाक बनाने लगे | सोहन को भी बहुत ही अफ़सोस हो रहा था , की उसने कभी भी उस पत्थर को उखाड़ने की कोसिस ही नहीं किया |

कर्तव्य -श्री ईश्वरचंद विद्यासागर जी से सीख

इसी तरह हमारी जिन्दगी में भी होता है की हम लोग अपनी समस्या से भागते है , हम लोगो को पहले सब कुछ जान लेने के बाद ही कुछ करना चाहिए |
यह कहानी आप को कैसी लगी कमेंट करके बताये |

Share Button

loading...
loading...

Related posts

Leave a Comment