राजा और मकड़ी की कहानी

king story in hindi
Share Button

बहुत समय पहले की बात है , एक राजा था जो अपने राज्य से बहुत प्रेम करता था | एक दिन किसी दूसरे राज्य के राजा ने उन पर हमला कर दिया और उनका राज्य छीन लेना चाहता था | जब राजा को लगा की वह अब मारा जायेगा तो वह भाग कर एक गुफा मे छुप गया | वह बहुत ही जादा डरा हुवा था की उसको कोई मार न दे | थकान की वजह से उसको वही पर नींद आ गयी और वह सो गया | जब उसकी नीद खुली तो उसने देखा की एक मकड़ी दीवार पर चढ़ रही है और गिर जा रही है ,लेकिन वह हिम्मत नहीं हार रही है | लगातार चढ़ती ही जा रही है और अंत मे वह अपनी मंजिल पर पहुच गयी |

आंशुओ की कीमत पर पुरस्कार नहीं – चैतन्य महाप्रभु की कहानी

राजा यह सब बहुत ही ध्यान से देख रहा था और मन ही मन सोच रहा था की यह इतनी छोटी सी है और लगातार चढ़ती जा रही है | राजा ने खुद को बहुत गिरा हुवा महसूस किया और मन ही मन कुछ करने की ठान ली | वह गुफा से निकलकर बाहर आया और अपना एक ग्रुप बनाया और पूरे जोश के साथ दूसरे राजा पर हमला किया और इस बार उसको सफलता मिल गयी | सब लोग बहुत की परेसान थे की राजा जी के अंदर इतना बदलाव कैसे आया | कुछ लोगो ने हिम्मत कर के जब राजा से पूछा तो राजा ने मकड़ी की कहानी सब को सुनाया और सब लोगो ने राजा की प्रसंसा करने लगे |

इसी तरह हम सब के जीवन मे भी है की हम लोगो को कभी भी हार नहीं माननी चाहिए | कर्म करते रहना चाहिए , सफलता तो एक दिन मिलेगी ही | आप सब को यह कहानी कैसी लगी नीचे कमेंट मे जरूर लिखे |

कायरता – एक अनोखी कहानी

Share Button

loading...
loading...

Related posts

Leave a Comment