अपनों का प्यार – एक छोटी बच्ची की रुला देने वाली कहानी

ma aur beti ke kahani
Share Button

कभी – कभी तो हम लोग अपनी जीन्दगी मे इतना बिजी हो जाते है की हमलोगों को अपने बच्चो का ख्याल ही नहीं रहता है | आज मे आप लोगो को एक ऐसी ही कहानी बताने जा रहा हू जो आप लोगो को अन्दर से सोचने पर मजबूर कर देगी |नेहा एक लड़की जो अपने माँ – बाप का प्यार पाने के लिए हमेशा कुछ न कुछ करती रहती थी की उसके माँ – बाप हमेशा उसके साथ रहे | एक दिन की बात है नेहा के पापा और माँ दोनों लोग घर पर थे और नेहा अपने स्कूल गयी थी | नेहा की माँ कुछ काम से नेहा के कमरे मे गयी तो वहा पर नेहा का एक नोटबुक था और उसपर लिखा था की काश मे टी वी होती |

नेहा की माँ स्कूल मे टीचर थी तो शाम मे वो जब बच्चो की कॉपी चेक कर रही थी तब उनके पति घर पर आराम से बैठ कर टी वी देख रहे थे | नेहा की माँ ने सोचा यह सही समय है नेहा का लिखा नोट पढने का | उसने अपने पति को बोला सुनते हो जी आप आज एक लडकी ने लिखा है की काश मे टी वी होती तो सब लोग मुझसे प्यार करते , सब लोग मुझको देखने आते , पापा जब भी थक कर ऑफिस से घर आते तो मुझको ही पहले देखने आते और माँ का जब भी टाइम पास नहीं होता तो वो भी टी वी के पास आकर टाइम पास करती |

भगवान् को पत्र – एक किशान की दर्द भरी कहानी

यह सुनकर नेहा के पापा हसने लगे , लेकिन नेहा की माँ रो रही थी इस लैटर को पढ़कर और अपने पति से बोला – आप को पता है यह लेटर किसने लिखा है | तो उसके पति ने बोला अरे होगा कोई भी , तो उसकी माँ ने बोला यह लेटर हमारी बेटी नेहा ने लिखा है | यह सुनते ही नेहा के पापा को बहुत ही अफ़सोस होता है और दोनों पति – पत्नी मिलकर सपथ लेते है की हम टी वी से ज्यादा टाइम नेहा के साथ देंगे |

दोस्तों हमारे घरो मे भी हम लोग अपने बच्चो के साथ ऐसा करते है , लेकिन हम लोग उनकी फीलिंग को नहीं समझ पाते है | अगर यह कहानी आप लोगो को अच्छी लगी हो तो सब लोगो के साथ जरुर शेयर करे |||

Share Button

loading...
loading...

Related posts

Leave a Comment