सावन की यह कहानी जरूर पढ़े | क्या आप को पता है की सावन क्यों मनाया जाता है |

Share Button

जब – जब सावन का महीना आता है हम सब लोग बहुत ही खुश हो जाते है | सावन का महीना बहुत ही अच्छा मौसम होता है , कभी तेज बारिश तो कभी धीरे – धीरे चारो तरफ हरियाली ही हरियाली होती है | सावन का महीना भगवान् शिव का महीना भी कहा जाता है , सब लीग इस महीने में शिव जी की पूजा अर्चना करते है | कहा यह भी जाता है की जो लोग सावन के महीने में भोले बाबा का सही से पूजा करते है उनकी मनोकामना जरूर पूरी होती है |

क्या आप को पता है की सावन क्यों मनाया जाता है ?
कुछ लोगो का मानना है की यह महीना शिव जी का बहुत ही पसन्दिदा महीना है | यह भी कहा जाता है की दक्ष पुत्री माता सती ने अपने जीवन का त्याग करके कई बरसो तक श्रापित जीवन जीया था और बाद में पार्वती जी के रूप में जन्म लिया और भगवान् शिव को अपना पति पाने के लिए घोर तप किया | उनकी इस तपस्या से खुश होकर भगवान् शिव ने उनको अपना लिया | पार्वती जी से पुनः मिलाप के कारन शिव जी को यह महीना बहुत ही अच्छा लगता है , इसलिए सावन मनाया जाता है |
कुवारी लड़किया भी इसलिए ही शिव भगवान् की पूजा करती है ताकि उनको अच्छा सा पति मिल सके |क्युकी सावन के महीने में ही भगवान् शिव धरती पर आकर विचारणा किया था |

कुछ लोगो का यह भी कहना है की यही वह महीना है जब समुन्दर मंथन हुवा था और शिव जी ने समुद्र से निकले विष को पी लिया था | इसके बाद सब लोगो ने उनपर जल डाला था , तभी से यह सावन का महीना मनाया जाता है | हम सब लोग सावन के महीने में बहुत ही खुस रहते है , कावर वाले तो अपने कवर को लेकर शिव जी की भक्ति में लीं होते है और कुछ लोग घर पर ही रह कर पूजा करते है |

अगर आप शिव जी के भक्त हो तो इस पोस्ट को जरूर शेयर करे |

जाने गुरु पूर्णिमा क्यों  मनाया जाता है

इंसान मतलबी होता चला जा रहा है | जाने क्यों ?

 

Share Button
loading...

Related posts

Leave a Comment