रोंगटे खड़ी कर देने वाली मोटिवेशनल कहानी

sea story in hindi
Share Button

एक बार समुद्र में यात्री जहाज( टाइटैनिक नहीं ) दुर्घटनाग्रस्त हो गया……उस पर सवार दो व्यक्ति बहते और तैरते हुए किसी तरह एक द्वीप पर पहुँच गए
उस द्वीप पर एक विशाल वृक्ष के सिवाय और कुछ भी नहीं था
एकदम सुनसान द्वीप न कोई जीव-जंतु ना कोई और पेड़-पौधा…… कोई वहाँ आता-जाता भी नहीं था । 
परंतु उस पेड़ पर रसीले मीठे फल हमेशा लगे रहते थे ।
वो दोनों उस पेड़ के सहारे रहने लगे…….उसका फल खा लेते,पत्तियों का बिछावन बना लिया,उसके छाल और पत्तियों से अपने लिए कपड़े भी बना लिया ।
बारिश और धूप से भी पेड़ उनको बचा लेता था ।

मसाला किंग के सफलता की कहानी


कुछ समय बाद जब वो लोग वहाँ के जीवन के अभ्यस्त हो गए तब उन्होंने पेड़ की बुराई करनी शुरू की
दोनों दिन में कई बार एक दूसरे से कहते- अभागा पेड़ है यह, यहाँ इसके सिवा और कोई नहीं है ।
शायद यह किसी को पनपने ही नहीं देता होगा…….इसे अकेले रहना ही पसँद होगा ।
इस टापू पर अकेले रहने का दण्ड मिला होगा इसको ।
पेड़ उनकी बातें सुनता रहता था……कुछ समय बाद पेड़ भी निराश होने लगा…..उसकी शक्तियाँ कम होने लगीं
पत्ते पीले पड़ कर मुरझा गए
फल लगने भी बंद हो गए और पेड़ सूख गया ।
उसके साथ-साथ उन दोनों की भी मृत्यु हो गयी ।

तो दोस्तों इस कहानी से हम लोगो को यही सीख मिलती है की जीवन में कभी भी किसी को छोटा मत समझो और किसी की भी निंदा मत करे ।

गावं से शहर की ओर – एक अनोखी कहानी

Share Button
loading...
loading...

Related posts

Leave a Comment