कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता है

no one work is small or big
Share Button

दीपू एक बहुत ही अच्छा मकैनिक था , जो की अपने काम के आगे सभी लोगो के काम को छोटा समझता था | उसको लगता था की जो काम वह कर रहा है वही सबसे अच्छा काम है बाकी सब लोगो का काम बेकार है | एक दिन एक डॉक्टर साहब अपनी कार लेकर उसके पास आये और बोले भाई इसको देखना क्या हो गया | वह डॉक्टर एक सर्जन थे और बड़े ही अच्छे नेचर के थे , दीपू भी बड़े लोगो की गाड़ियों को देख कर बहुत ही खुश होता था |

एक राजा की प्रेम कहानी

गाड़ी सही करते वक़त वह डॉक्टर साहब से बोला – आप का और मेरा काम तो एक समान है , फिर भी आप मुझसे ज्यादा पैसा क्यों कमाते हो |
आप देखो न जैसे में गाड़ी का इंजन खोलता हु उसी तरह आप भी ऑप्रेशन करते है |

डॉक्टर साहब बहुत ही बिनम्र थे और बोला – आप जो काम करते हो वो जिंन्दा लोगो पर नहीं करते हो , आप के काम में कुछ देर हो जाये तो आप कल कर सकते हो |
लेकिन मेरा काम जिन्दा लोगो पर ही होता है , जिसमे आप बिलकुल भी देरी नहीं कर सकते हो | यह बात सुनकर दीपू को समझ में आ गया की कोई काम बड़ा या छोटा नहीं होता है | बस इन्शान की सोच बड़ी होनी चाहिए |

घमंडी कुत्ता मोंटू की कहानी

दोस्तों हम लोग अपनी जिन्दगी में हमेशा छोटा और बड़ा काम को वैल्यू देते है , लेकिन हम लोग ये भूल जाते है की सबसे बड़ी वैल्यू इन्शान की है | आप लोगो को यह कहानी कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताये |

Share Button

loading...
loading...

Related posts

Leave a Comment