लंदन के राष्ट्रपति लार्ड वेलिंगटन के सफलता की कहानी

lord wellinghton success story
Share Button

लंदन मे एक छात्र था , उस का नाम वेलिंगटन था | वह बहत ही गरीब था , स्कूल मे हर वक्त फ़टे पुराने कपडे पहन कर जाया करता था | उसके सहपाठी हमेशा उसका मजाक उड़ाते थे | लेकिन वह तनिक भी बुरा नहीं मानता था | दरअसल , वह मन ही मन सोचा करता था , ये सहपाठी गरीब होने की वजह से उसका मजाक उड़ाते है | कई बार जब वह इस मजाक को गंभीरता से लेता था तब एकांत मे बैठ कर खूब रोता था , फिर अपने आप से समझोता कर गरीब की बात भूल जाता था और पढाई करने मे मस्त हो जाता |

एक चित्रकार की दर्द भरी कहानी

वेलिंगटन के घर बिजली नही थी , इस कारन वह रात मे रोड लाइट मे अपना होम वर्क किया करते थे , एक बार वेलिंगटन किसी कारण वश अपना होम वर्क नही कर पाये तो टीचर ने उसके दोनों हाथो मे डंडे से मारा |तो वह रोने लगा तो टीचर ने उसको चुप करने के उद्देशय से पूछा – क्यों वेलिंगटन ! यह टाइम पीश क्या कहती है ?
अबोध वेलिंगटन ने उद्द्तर दिया – क्लॉक से टन टन टन एंड वेलिंगटन बुड बी लार्ड ऑफ़ लंदन (घड़ी कहती है टन टन टन और लंदन का लार्ड बनेगा वेलिंगटन ) |

यह सुनते ही क्लास के सभी छात्र जोर जोर से हसने लगे और उसको लंदन लार्ड नाम से चिढ़ाने लगे | लेकिन बालक वेलिंगटन की यह बात सही साबित हुई और वह सचमुच मे एकदिन लंदन का लार्ड बना |आगे चलकर लार्ड वेलिंगटन ने राष्ट्रहित मे कई नेक काम किया , जिसे कारण वह आज भी संसार मे अमर है |

नया सवेरा – एक अशिक्षित गावं की कहानी

Share Button

loading...
loading...

Related posts

3 thoughts on “लंदन के राष्ट्रपति लार्ड वेलिंगटन के सफलता की कहानी

  1. hard work he , success karata hai

Leave a Comment