जब लगातार असफलता मिल रही हो तो क्या करे ?

जब लगातार असफलता मिल रही हो तो क्या करे ?
Share Button

  हम सब लोग एक सफल इन्सान बनना चाहते है , लेकिन कभी – कभी हम लोगो को सफलता जल्दी नहीं मिल पाती है और हम लोग मायूष हो जाते है | एक बात तो आप सब लोग को पता है की इस दुनिया मे कोई भी चीज अमर नहीं है सिवाए आत्मा के , तो हम तो इंसान है बस अपना कर्म करते रहना चाहिए उपर वाला सबका दिन अच्छा देता है | किसी को पहले सुख मिलता है और बाद मे दुःख और किसी को पहले ढेर सारा…

Share Button
Read More

बूढी माँ की सुई – एक कहानी जो आप का जीवन बदल सकती है

बूढी माँ की सुई – एक कहानी जो आप का जीवन बदल सकती है
Share Button

एक बार की बात है एक गावँ में एक बूढी माँ रहती थी | वह बहुत ही गरीब थी और बड़ी ही मुस्किल से अपने आप को रखती थी | एक दिन बूढी माँ की सुई गिर गयी और वह रोड के लाइट मे आकर सूई को ढूढने लगी , तभी वहा से एक आदमी जा रहा था | उसने बोला अम्मा क्या कर रही हो , अम्मा ने बोला – बेटा मेरी सूई गुम हो गयी है उसी को खोज रही हू | बूढी माँ के साथ वह भी…

Share Button
Read More

कैसे अपनी मुश्किल काम को आसान बनाये ?

कैसे अपनी मुश्किल काम को आसान बनाये  ?
Share Button

आज टिकू के छुटटी का दिन था और वह अपनी माँ को बहुत जयादा परेशान कर रहा था | उसकी माँ सुनीता जी एक बुक पढ़ रही थी , लेकिन टिंकू बार – बार उनको परेशान करता रहता था | टिंकू का दिमाग बहुत ही तेज था और वह हमेशा कुछ न कुछ किया करता था | आज वह अपनी माँ से बहुत ही ज्यादा सवाल कर रहा था – माँ ये क्या है , कैसे बनता है ? वो दुःख वाले रात जब कोई साथ नहीं देता है –…

Share Button
Read More

बड़ी सोच – एक टिफिन वाले की कहानी

बड़ी सोच – एक टिफिन वाले की कहानी
Share Button

कबीर अपने गावं का एक लौता पढ़ा – लिखा लड़का था और नौकरी की तलाश में शहर को जा रहा था | वह एक ट्रेन मे बैठ कर जा रहा था , कुछ टाइम बाद शाम हो गयी और वह अपने साथ कुछ रोटिया खाने के लिए ले गया था | जब सब लोग खा रहे थे तब कबीर ने भी सोचा मे भी खाना खा लू , क्युकी उसके पास सब्जी नहीं थी तो वह बहुत ही शर्म कर रहा था | लेकिन थोरी देर बाद वह अपना टिफिन…

Share Button
Read More

मोंटी हिरण और बंटी भालू की कहानी

मोंटी हिरण और बंटी भालू की कहानी
Share Button

मोंटी हिरन जैसे ही स्कूल पंहुचा , बंटी भालू अपने दोस्तों के साथ उसका मजाक उड़ाने लगा | अरे देखो फटीचर की खटारा आ गयी , यह सुनकर उसके सारे दोस्त हशने लगे | उसकी बात सुनकर भी मोंटी कुछ नहीं बोला और अपनी साइकिल खड़ी करके अपनी क्लास में चला गया | मोंटी अभी नया – नया स्कूल में आया था , वह एक गरीब परिवार से था | मोंटी का घर स्कूल से काफी दूर था , इसलिए वह बहुत ही मुश्किल से अपने लिए एक पुरानी साइकिल…

Share Button
Read More

जस्ट डायल के मालिक के सफलता की कहानी – Just Dial CEO Success Story In Hindi

जस्ट डायल के मालिक के सफलता की कहानी –  Just Dial CEO Success Story In Hindi
Share Button

अगर आप को लाइफ में आगे जाना है और आप का कुछ सपना है तो आप दिन रात एक करके उस सपने को जरुर पूरा करोगे | आज की कहानी माय हम बात कर रहे है जस्ट डायल के सीईओ V.S.S. मणि के बारे में , जिसने अपने मेहनत के दम पर इतनी बड़ी कंपनी खड़ी किया | लेकिन उनका यह सफ़र इतना आसान नहीं था | लेकिन V.S.S. मणि जी ने हार नहीं मानी और अपना सपना पूरा किया | कैसे एक दृष्टहीन श्रीकांत बोला जी ने खड़ी की…

Share Button
Read More

कैसे एक दृष्टहीन श्रीकांत बोला जी ने खड़ी की 50 करोड़ की कंपनी – Srikanth Bolla Story In Hindi

कैसे एक दृष्टहीन श्रीकांत बोला जी  ने खड़ी की 50 करोड़ की कंपनी – Srikanth Bolla Story In Hindi
Share Button

दोस्तों यह कहानी पढ़कर आप की आँखों मे अंशु आ जायेगा | हम बात कर रहे है श्रीकांत बोला की जो की जन्म से ही अंधे है , उनके जन्म लेते ही सारे गावों वालों ने बोला यह बिना आँख का लड़का है जो बुढ़ापे में अपने माँ – बाप की परेसानी बन जायेगा | श्रीकांत बोला का जन्म आंध्र प्रदेश के एक छोटे से कसबे में हुवा था | वक्त बीतता चला गया और यह बालक बड़ा होने लगा , एक दिन श्रीकांत के पिता जी ने उनका एडमिशन…

Share Button
Read More

पी वी सिंधु के बारे मे कुछ अनसुनी बाते – जो आप नहीं जानते है

पी वी सिंधु के बारे मे कुछ अनसुनी बाते – जो आप नहीं जानते है
Share Button

पी वी सिंधु का जन्म ५ जुलाई १९९५ मे हैदराबाद मे हुआ था | वह बचपन से ही बेहद सांत स्वभाव की थी | उनके पिता रेलवे मे नौकरी करते है | सिंधु ने शुरूआती शिक्षा श्री वेंकटेश्वर बाला कुटीर, गुंटूर से हासिल की थी | सिंधु पिछले १२ सालो से बैटमिंटन का प्रैक्टिस करती है | जब पहली बार वह हैदराबाद कोर्ट मे खेलने पहुची तो उनको बहुत शांत देख कर गोपीचंद ने कहा – पहले तुम कोर्ट के बीच मे आकर जोर- जोर से चिल्लाना है , उसके…

Share Button
Read More

अन्धकार को क्यों धिक्कारे अच्छा है एक दीप जलाये

अन्धकार को क्यों धिक्कारे अच्छा है एक दीप जलाये
Share Button

अन्धकार को क्यों धिक्कारे अच्छा है एक दीप जलाये आज की दुनिया मे सब लोग सफल होना चाहते है कुछ लोग सफल होते है और कुछ लोग नही हो पाते | जो लोग सफल हो जाते है वो अपने मेहनत और लगन के बारे मे सब को बताते है और जो लोग सफल नही हो पाते है वो लोग अपनी किस्मत को दोष देते है | सफलता मेहनत , लगन और किस्मत तीनो से मिलकर मिलता है , हम सब को अपना काम पुरे मन से करना चाहिए | अच्छा…

Share Button
Read More

लंदन के राष्ट्रपति लार्ड वेलिंगटन के सफलता की कहानी

लंदन के राष्ट्रपति लार्ड वेलिंगटन के सफलता की कहानी
Share Button

लंदन मे एक छात्र था , उस का नाम वेलिंगटन था | वह बहत ही गरीब था , स्कूल मे हर वक्त फ़टे पुराने कपडे पहन कर जाया करता था | उसके सहपाठी हमेशा उसका मजाक उड़ाते थे | लेकिन वह तनिक भी बुरा नहीं मानता था | दरअसल , वह मन ही मन सोचा करता था , ये सहपाठी गरीब होने की वजह से उसका मजाक उड़ाते है | कई बार जब वह इस मजाक को गंभीरता से लेता था तब एकांत मे बैठ कर खूब रोता था ,…

Share Button
Read More