एक बन्दर की प्रेरक कहानी

monkey story in hindi
Share Button

बहुत समय पहले की बात है की एक बहुत ही घना जंगल था और उसमे बहुत सारे बन्दर रहते थे | एक दिन एक बन्दर अपने बच्चे के साथ पेड़ पर बैठा हुवा था , तभी उसके बच्चे ने बोला मुझको बहुत तेज भूख लगी है आप मुझको कुछ पाटिया तोड़ कर दे दो | बन्दर ने बोला तुम खुद तोड़ कर खा सकते हो , इस पर बन्दर के बच्चे को बहुत ही गुस्सा आया और बोला मुझको पता नहीं है की कौन सी पत्तिया अच्छी है और कौन सी पत्तिया बुरी है |

तितली के संघर्ष की कहानी जो आप को सोचने पर मजबूर कर देगी

इस पर बन्दर ने बोला जो पत्तिया नीचे है वह पुरानी और कड़क है और जो पत्तिया एक दम डाल के ऊपर है वो नरम है | इस पर बन्दर के बच्चे ने बोला लेकिन ऐसा क्यों है की जो अच्छी पत्तिया है वो ऊपर है और सब बन्दर तो नीचे की ही पत्तिया खा लेते है | इस पर बन्दर ने मुस्कुराते हुवे बोला – बेटा यही तो बात है सब बन्दर डरते है की कही डाल टूट न जाये और वह गिर न जाये और उनको कही चोट न लग जाये | लेकिन जो बन्दर डरता नहीं है वह बहुत ही आराम से उन नरम पतियों को खा लेते है और उनको कुछ भी नहीं होता है | बन्दर का बच्चा यह बात बहुत ही अच्छी तरह समझ चूका था और बोला मैं भी नहीं डरूंगा और हमेशा ही नरम पत्तिया खाऊंगा | अपने बच्चे की यह बात सुनकर बन्दर बहुत ही खुश हो गया |

तो दोस्तों कभी – कभी हमारी जिन्दगी मैं भी ऐसा होता है की बहुत सारे काम हम लोग अपने डर की वजह से छोड़ देते है जबकि वह काम कोई मुश्किल काम नहीं होता है | इस कहानी से हम लोगो को यही सीख मिलता है की आगे बढ़ना है तो रिस्क लेना ही पड़ेगा नहीं तो आप यही रह जावोगे और सब लोग आप से आगे बढ़ जायेंगे ||

यह कहानी भी पढ़े —

–  एक बूढ़े पिता की कहानी जो आप को सोचने पर मजबूर कर देगी

– दर्जी की सोच और उसके बेटे की कहानी जो आप को सोचने पर मजबूर कर देगी

–  अकबर की आम के पेड़ वाली कहानी – AKBAR KE KAHANI

– बढ़ई और लोहार की कहानी जो आप का दिल जख्झोर देगी

–  मेहनत का सुख – एक राजा और किसान की कहानी

 – ज्ञानी बालक और राजा की कहानी

  – बड़ी सोच – एक टिफिन वाले की कहानी

– एक अंधे पति और पत्नी की प्रेम कहानी

– मंदिर के पुजारी की कहानी

– बुलंद हौसलों से जिसने दुनिया जीता – नेपोलियन की कहानी

 – क्या है खुश न रहने का कारण – एक महात्मा की कहानी

Share Button

loading...
loading...

Related posts

Leave a Comment