पंद्रह अगस्त क्यों मनाया जाता है| About Independence Day In HIndi

Share Button

पंद्रह अगस्त क्यों मनाया जाता है हम सब लोगो को यह बात बहुत ही अच्छे से पता है | यही वह दिन था जब अंग्रेज भारत को छोड़ कर भाग गए थे और उनको लगा था की अब हम और कुछ नहीं कर सकते है | इसी दिन को हम सब लोग आजादी का दिन मानते है | १५ अगस्त १९४७ को हमारा देश हमेसा के लिए आजाद हो गया था और तब से हम सब लोग अपनी आजादी का दिन बहुत ही धूम धाम से मानते है और मनाये भी क्यों न यह आजादी हमारे बहादुर देश भक्तो ने अपने जान की बाजी लगाकर जीता था |

आप जब भी उन दिनों की बात सुनोगे और सोचोगे तो आप का रूह काँप उठा है की अंग्रेज कितने हरामी थे और है , लेकिन समय सब का आता है आज उनकी इतनी हैसियत ही नहीं है की हमारी तरफ आँख उठा कर भी देख ले | जो लोग उस समय आजादी के लिए लड़े आज वो हमारे बीच नहीं है फिर भी हम लोग उनको याद करके ही अपना मन भर लेते है |

देश तो आजाद हो गया , लेकिन एक बात हमेसा मन में आती है की क्या हम सब लोग आजाद है या नहीं | अंग्रेजो ने तो हमें छोड़ दिया लेकिन क्या हम लोगो को पता है की हमारे ही बीच कुछ ऐसे लोग है जो अंग्रेजो से भी बुरे है | उनको लगता है की वो जो चाहेंगे वही होगा , लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं है , आज भी जरूरत पड़े तो इस देश में इतने भगत सिंह है जो अपने देश की आन के लिए अपनी जान तक दे देंगे |

हम सब लोग यही कहते है की हमारा देश आगे जा रहा है , क्या हमको यह पता है की इस देश में आज भी बहुत से ऐसे लोग है जो एक टाइम का खाना भी बड़ी ही मुश्किल से खा पाते है | क्या ये लोग इस देश में नहीं रहते है , क्या हमारी जिमेदारी नहीं है की ऐसे लोगो को भी कुछ करे | सरकार तो आती रही है और अपना जेब भरकर जाती रही है | आज भी हमारे इस देश में भगत सिंह,राजगुरु और सुखदेव जैसे लोगो की जरुरत है जो दुसरो के दर्द को समझे और उनके लिए कुछ करे |

यह जरुरी नहीं की देश की रक्षा के लिए हम सेना में ही जाकर कर सकते हो , अगर आप को देश के लिए कुछ करना है तो आप लोगो की मदत करके भी देश की सेवा कर सकते हो | हम सब लोगो बहुत ही मतलबी हो गए है सिर्फ और सिर्फ अपने बारे में सोचते है , दूसरा क्या कर रहा है हम लोगो को कोई फरक नहीं पड़ता | अगर यही बात हमारे देश की क्रांतकारियों ने सोच लिए होता तो आज यह देश आजाद ही नहीं होता | जरुरत हमको अपनी सोच को बदल देने की |

जय हिन्द | जय भारत | बंदेमातरम |

पोस्ट को सबके साथ जरूर शेयर करे |

Share Button
loading...

Related posts

Leave a Comment